Dastak Hindustan

मणिपुर अखंडता पर समन्वय समिति ने अमित शाह के दौरे का किया स्वागत

इंफाल (मणिपुर):- मणिपुर अखंडता पर समन्वय समिति (COCOMI) ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की यात्रा का स्वागत किया है। कोकोमी ने कहा कि यह शांति बहाल करने की दिशा में एक बहुत ही सकारात्मक कदम है। मणिपुर में 75 से अधिक लोगों की जान लेने वाले जातीय संघर्ष पहाड़ी जिलों में 3 मई को “आदिवासी एकजुटता मार्च” आयोजित किए जाने के बाद मेइती समुदाय की अनुसूचित जनजाति के दर्जे की मांग के विरोध में हुए थे।

मुख्यमंत्री एन बीरेन सिंह का बयान – 

मुख्यमंत्री एन बीरेन सिंह ने रविवार को कहा कि पूर्वोत्तर राज्य में शांति बहाल करने के लिए शुरू किए गए अभियान के बाद से घरों में आग लगाने और नागरिकों पर गोलीबारी करने में शामिल लगभग 40 सशस्त्र आतंकवादी सुरक्षा बलों द्वारा मारे गए हैं।

आरक्षित वन भूमि से कूकी ग्रामीणों को बेदखल करने को लेकर तनाव से पहले हिंसा हुई थी, जिसके कारण कई छोटे-छोटे आंदोलन हुए। शाह ने 15 मई को मणिपुर में हिंसा के अपराधियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई का निर्देश दिया और राज्य को स्थायी शांति सुनिश्चित करने में केंद्र से पूर्ण समर्थन का आश्वासन दिया।

शाह ने राज्य में शांति बहाल करने के लिए किए गए उपायों की समीक्षा करने के लिए नई दिल्ली में सिंह, मेइती और कुकी समुदायों के प्रतिनिधियों और अन्य हितधारकों के साथ कई बैठकें करने के बाद निर्देश दिए।मणिपुर में चिन-कुकी-मिज़ो-ज़ोमी समूह से संबंधित 10 आदिवासी विधायकों ने मेइती और आदिवासियों के बीच हाल ही में हुई हिंसक झड़पों के मद्देनजर अपने क्षेत्र के लिए एक अलग प्रशासन की मांग की थी।

शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *