Dastak Hindustan

इटावा के सारंगपुरा गांव के जंगल में युवक-युवती के शव पेड़ों से लटके मिले, मचा हड़कंप

इटावा (उत्तर प्रदेश):- इटावा के लवेदी थानाक्षेत्र के गांव सारंगपुरा गांव के बीहड़ के जंगलोंं में युवक-युवती के शव संदिग्ध अवस्था में दो पेड़ों से लटके मिले हैै। युवक का गमछा फट जाने से शव झाड़ियों में जमीन पर पड़ा मिला हैै। दोनों के शव करीब एक सप्ताह पुराने बताये गए हैं। पुराने होने के कारण क्षतविक्षत अवस्था में थे। युवती का चेहरा गला हुआ था जबकि युवक का सिर धड़ से अलग था।

दोनों शवों की पहचान करीब पांच घंटे बाद हुई

बुधवार को बीहड़ में एक चरवाहा बकरी चराने गया था। उसने दो शवों को पेड़ों पर अलग अलग लटकते देखा। सूचना पर लवेदी थानाध्यक्ष विश्वनाथ मिश्रा मय फोर्स मौके पर पहुंचे। दोनों शवों की पहचान करीब पांच घंटे बाद बकेवर थाना क्षेत्र के ग्राम मड़ैया दिलीप नगर निवासी अनुज पुत्र सुभाष निषाद (19) वर्ष व कल्पना पुत्री अखिलेश निषाद (23) वर्ष के रूप में हुई।

युवक के परिवार का कोई प्रार्थना पत्र नहीं देने आया

घटना के पीछे दोनों के बीच प्रेम प्रसंग का मामला बताया जाता है। युवती की पिछले 4 मई को ग्राम रम्पुरा जालौन में शादी हुई थी। दोनों प्रेमी युगल 25 मई से गांव में एक भागवत कथा के भंडारे के दौरान से गायब थे। युवती की बकेवर थाना में गुमशुदगी दर्ज है। थाना पुलिस के अनुसार युवक के परिवार का कोई प्रार्थना पत्र नहीं देने आया।

एसएसपी संजय कुमार वर्मा अपर पुलिस अधीक्षक ग्रामीण सत्यपाल सिंह, सीओ चकरनगर राकेश वशिष्ठ एसडीएम चकरनगर मलखान सिंह, सीओ भरथना विवेक जावला बकेवर थाना प्रभारी इंस्पेक्टर विक्रम सिंह चौहान चकरनगर थाना प्रभारी दीपक कुमार भरथना कोतवाली प्रभारी रण बहादुर सिंह यूपीएससी घटनास्थल पर पहुंचे। पुलिस ग्रामीणों से पूछताछ कर शवों की पहचान करने में जुटी हुई थी।

पुलिस ने शव की तलाशी ली

दिलीपनगर निवासी सुभाष निषाद ने अपने लापता पुत्र के बारे में जानकारी करने के लिए सारंगपुरा के बीहड़ में पहुंचे। युवक के शरीर पर कपड़े देखकर सुभाष ने अपने पुत्र अनुज के रूप में पहचान की है। पुलिस ने शव की तलाशी ली तो युवक की जेब से पर्स मिला। जिसमें अनुज का आधार कार्ड बरामद हुआ। आधार कार्ड के अलावा पर्स से युवती के कुछ जेवर कानों के कुंडल मंगलसूत्र भी बरामद हुआ।

फोरेंसिक टीम व डॉग स्क्वायड की टीम भी मौके पर पहुँची

युवती का शव एक पेड़ से उसकी चुन्नी से गले मे फंदे से लटका हुआ था। फोरेंसिक टीम व डॉग स्क्वायड की टीम भी मौके पर पहुँची। एसएसपी संजय कुमार वर्मा ने बताया कि कानपुर ज़ोन की फोरेंसिक टीम को बुलाया गया है। युवक व युवती के बीच प्रेम प्रसंग था। 25 मई से दोनों गायब थे। दोनों के शव लवेदी क्षेत्र में जंगल में पेड़ों से फांसी पर लटके मिले। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया।

मई के महीने में ही वह हैदराबाद से छुट्टी लेकर घर आया था।

मृतक अनुज कुमार हैदराबाद में प्राइवेट नौकरी करता था। युवती के साथ उसका प्रेम प्रसंग काफी समय से चल रहा था। मई के महीने में ही वह छुट्टी पर घर आया था। शादी के बाद युवती मायके आई। इसके बाद दोनों 25 मई से गायब हो गए। घर वाले काफी खोजबीन करते रहे परंतु उनका कोई पता नहीं चला दोनों ने संभवतः उसी दिन बीहड़ में जाकर फंदा लगाकर आत्महत्या किया था।

 

शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *