Dastak Hindustan

मणिपुर में हिंसा काबू में न कर पाने के कारण पुराने डीजीपी का हुआ तबादला, अब नए डीजीपी होंगे आईपीएस अधिकारी राजीव सिंह

इम्फाल (मणिपुर):- भारतीय पुलिस सेवा (आईपीएस) अधिकारी राजीव सिंह को मणिपुर का नया पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) नियुक्त किया गया है। आधिकारिक आदेश के अनुसार त्रिपुरा कैडर के 1993 बैच के आईपीएस अधिकारी सिंह को तीन साल के लिए अंतर-कैडर प्रतिनियुक्ति पर मणिपुर भेजा गया है।

राजीव सिंह वर्तमान में सीआरपीएफ के आईजी के तौर पर सेवांए दे रहे हैं। गृह मंत्रालय के आदेश में कहा गया है सीआरपीएफ के आईजी राजीव सिंह को तीन दिन पहले ही मणिपुर कैडर में स्‍थानांतरित किया गया है। आईपीएस राजीव सिंह मूलरूप से बिहार के रहने वाले हैं और त्रिपुरा कैडर के अधिकारी हैं। ये फैसला उस वक्‍त लिया है जब गृह मंत्री अमित शाह मणिपुर दौरे पर हैं। बताया जा रहा है कि हिंसा को काबू न कर पाने के कारण डीजीपी पी डोंगल का तबादला किया गया है।

न्‍यायिक आयोग करेगा हिंसा की जांच

मणिपुर में हुई हिंसा को देखते हुए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने मामले की जांच के लिए न्‍यायिक आयोग के गठन की बात कही है। इसके साथ ही राज्‍य में गर्वनर की अध्‍यक्षता में शांति आयोग का भी गठन सुनिश्चित किया गया है। राज्य में तीन मई को हिंसा भड़कने के तुरंत बाद केंद्र सरकार ने सीआरपीएफ के पूर्व प्रमुख कुलदीप सिंह को मणिपुर सरकार का सुरक्षा सलाहकार नियुक्त किया था। अधिकारियों के अनुसार मेइती समुदाय द्वारा अनुसूचित जनजाति (एसटी) के दर्जे की मांग के विरोध में तीन मई को पर्वतीय जिलों में ‘आदिवासी एकजुटता मार्च’ के आयोजन के बाद से मणिपुर में हुई जातीय हिंसा में 80 से अधिक लोगों की जान जा चुकी है।

राह‍त राशि का भी ऐलान

अमित शाह ने आज प्रेस कांफ्रेंस के दौरान कहा है कि हिंसा में मारे गए लोगों के परिवार को पांच लाख रुपये केंद्र और पांच लाख रुपये राज्‍य सरकार की ओर से राहत के तौर पर दिए जाएंगे। इसके अलावा सरकार मणिपुर में शांति बहाली के लिए भी आवश्‍यक कदम उठा रही है।

शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *