Dastak Hindustan

सचिव वाई.वी.वी.जे राजशेखर की शिकायत पर IP एस्टेट पुलिस स्टेशन में दर्ज की गई प्राथमिकी

नई दिल्ली:-दिल्ली सरकार के विशेष सचिव वाई.वी.वी.जे राजशेखर की शिकायत पर IP एस्टेट पुलिस स्टेशन में प्राथमिकी दर्ज की गई। प्राथमिकी में कहा गया है कि IAS अधिकारी (AGMUT 2007) उदित प्रकाश राय ने मैन्युअल प्रविष्टियां दर्ज करके और स्वयं रिपोर्टिंग/समीक्षा करने वाले अधिकारियों के हस्ताक्षर करके PARS (प्रदर्शन मूल्यांकन रिपोर्ट नियम) में जालसाजी की और SPARROW पोर्टल के माध्यम से जानबूझकर PARS लिखने से परहेज किया।

सूत्रों के अनुसार जो जानकारी मिली है उससे यह पता लगा है कि यह पूरा मामला केंद्रीय गृह मंत्रालय द्वारा दिल्ली सरकार को लिखे गए पत्र के बाद सामने आया है। उल्लेखनीय है कि बीती चार जुलाई 2022 को गृह मंत्रालय ने दिल्ली सरकार काे पत्र लिखा था कि जिसमें कहा गया था कि आइएएस उदित प्रकाश राय अपनी एपीएआर ऑनलाइन नहीं भेज रहे हैं और इसे मैनुअली डाउनलोड किया जा रहा है। वह इसे इसे मैन्युअल डाउनलोड किया जा रहा है। इसके बाद शक होने पर सरकार के सतर्कता विभाग ने जांच शुरू की थी। अलग अलग राज्यों में पोस्टिंग के दौरान एपीएआर रिपोर्ट मांगी गई थी।

केंद्रीय गृह मंत्रालय द्वारा भेजे गए एक पत्र पर दिल्ली सरकार के सतर्कता विभाग ने इस मामले की जांच की और जांच में दस्तखत फर्जी पाए गए हैं। सतर्कता विभाग की जांच में दो पूर्व आइएएस विजय देव और अनिंदो मजूमदार ने अपने उत्तर में कहा कि उन्होंने इन आइएएस की मैनुअल रिपोर्ट में कोई दस्तखत नहीं किए हैं।

देश और दुनिया की तमाम खबरों को जानने के लिए बने रहे हमारे साथ और यहां क्लिक करें 

शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *