Dastak Hindustan

मौसम विभाग ने जारी की चेतावनी , अगले 24 घंटों में और तेज हो सकता है चक्रवाती तूफान

गांधी नगर (गुजरात):- अगले 24 घंटों में चक्रवाती तूफान बिपरजाॅय तेज हो सकता है। इसके मद्देनजर नवसारी जिला प्रशासन ने लोगों के समुद्र तट पर जाने पर रोक लगा दी है। मौसम विभाग ने शनिवार को कहा कि ‘बेहद गंभीर’ चक्रवाती तूफान बिपरजॉय के अगले 24 घंटों में और तेज होने की उम्मीद है और यह उत्तर-उत्तर पूर्व की ओर बढ़ेगा। आईएमडी ने एक ट्वीट में कहा कि तीथल बीच पर ऊंची लहरें देखी गई हैं। ऐसे में चक्रवाती तूफान बिपरजाॅय ‘बहुत गंभीर’ हो सकता है इसके अगले 24 घंटों के दौरान उत्तर-उत्तर पूर्व की ओर बढ़ने की संभावना है।

अहमदाबाद मौसम निदेशक मनोरमा मोहंती ने बताया कि हमने मछुआरों को समुद्र में नहीं जाने की चेतावनी जारी की है। यह चेतावनी उत्तर गुजरात के बंदरगाहों के लिए है। अगर मछुआरे गहरे समुद्र (उत्तर या दक्षिण गुजरात) में मछली पकड़ रहे हैं तो उन्हें तुरंत लौट जाना चाहिए। मौसम एजेंसी ने बताया है कि उत्तर और दक्षिण गुजरात तटों के सभी बंदरगाहों आपात सिग्नल का संकेत दिया जाए। आईएमडी ने एक ट्वीट में कहा, “9 जून को 2330 बजे आईएसटी पर 16.0N और लंबे 67.4E के पास पूर्व-मध्य अरब सागर पर बहुत गंभीर चक्रवाती तूफान बिपरजाॅय। अगले 24 घंटों के दौरान और तेज होने और उत्तर-उत्तर-पूर्व की ओर बढ़ने की संभावना है।”चक्रवात बिपरजाॅय की प्रत्याशा में, अरब सागर तट पर वलसाड में तीथल बीच पर ऊंची लहरें देखी गई हैं। एहतियात के तौर पर तीथल बीच को 14 जून तक पर्यटकों के लिए बंद कर दिया गया है।

“हमने मछुआरों को समुद्र में नहीं जाने के लिए कहा और वे सभी वापस आ गए हैं। लोगों को जरूरत पड़ने पर समुद्र के किनारे गांव में स्थानांतरित कर दिया जाएगा। उनके लिए आश्रय बनाए गए हैं। हमने 14 जून तक पर्यटकों के लिए तिथल बीच को बंद कर दिया है।” तहसीलदार टीसी पटेल, वलसाड।

इससे पहले, अगले 36 घंटों में चक्रवात बिपरजाॅय के तेज होने के पूर्वानुमान के साथ, मौसम विभाग ने मछुआरों को केरल, कर्नाटक और लक्षद्वीप के तट से दूर समुद्र में न जाने की भी सलाह दी है।केरल के जिन जिलों में शुक्रवार को येलो अलर्ट जारी किया गया है, वे हैं तिरुवनंतपुरम, कोल्लम, पठानमथिट्टा, अलाप्पुझा, कोट्टायम, इडुक्की, कोझिकोड और कन्नूर।

इस तरह की अन्य खबरें पढ़ने के लिए क्लिक करें 

शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *